Owaisi tweet: कोर्ट में इल्जाम साबित करने की क्या जरूरत, शासन पर बन्दूक-शासन हावी

लखनऊ: देश में अजान और लाउडस्पीकर को लेकर राजनीतिक बयान बाजी का दौर शुरू है. वहीं देश में हनुमान जयंती और रामनवमी के जुलुस पर हुए हमले को लेकर पुलिस कठोर कदम उठा रही है. जिसको लेकर एक के बाद एक बयान बाजी का सिलसिला भी शुरू हो गया है. इस मामले में एमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीट कर इन मामलों में हो रही कार्रवाई पर सवाल उठाया है.

सरकार किसी को भी दोषी करार देकर सजा-ए-मौत सुना देगी
उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि “शासन पर बन्दूक-शासन हावी हो चुका है. अब कोर्ट में इल्जाम साबित करने की क्या जरूरत? सरकार किसी को भी दोषी करार देकर सजा-ए-मौत सुना देगी. उसके बाद एक कहानी बना दी जाएगी कि दोषी फरार होने की कोशिश कर रहे थे या पुलिस वालों पर हमला कर रहे थे. अकबर और सलमान हिरासत में मारे गए हैं.”

मंदिरों-मस्जिदों सहित 900 धार्मिक स्थलों को नोटिस जारी, सामने आई यह वजह

ओवैसी के ट्वीट का BJP प्रवक्ता आलोक अवस्थी ने दिया जवाब 
वहीं ओवैसी के ट्वीट का भाजपा प्रवक्ता आलोक अवस्थी ने जवाब दिया. उन्होंने कहा कि “हिंसा को तार्किक ढंग से रखने के लिए ओवैसी जैसे लोग सामने आ गए हैं. जिनको लगता है, मुसलमानों पर अत्याचार हो रहा है. आप बताइए धार्मिक जुलूस शांतिपूर्वक निकल रहा है. जुलुस पर हमला करने का अधिकार किसने दे दिया आपको. आप खुद को सहिष्णु कहते हैं. तो क्या शांतिप्रिय समाज की निशानी है कि पत्थर फेंकेंगे, बोतलें फेंकेंगे, पेट्रोल बम फेंकेंगे, गाड़ियों में आग लगा देंगे, आसपास की बस्तियों में हमला करेगें?”

मॉरीशस के प्रधानमंत्री तीन दिवसीय यात्रा पर आज पहुंचेंगे काशी, गंगा में पिता की अस्थियां करेंगे प्रवाहित

पर्सनल लाइकिंग और डिसलाइकिंग से चलेगा देश
उन्होंने कहा कि “ये शांति प्रिय समाज है, आप इसकी नुमाइंदगी के लिए खड़े हुए हैं. क्या देश संविधान से नहीं चलेगा. देश आपकी पर्सनल लाइकिंग और डिसलाइकिंग से चलेगा. आप यह बिल्कुल भूल जाइए ओवैसी जी. देश अब जाग चुका है, देश कानून से चलेगा. कानून अपना काम करेगा. देशभर में जो आप हमले करवा रहे हैं, कभी सुना है आपने मोहर्रम के जुलूस पर हमला हुआ है? जिसमें तलवार बरछे और भाले लेकर आप लोग चलते हैं. कभी किसी हिंदू ने हमला किया है. आप जैसे लोग एक वर्ग विशेष को भड़काने उसको बचाने और अपराधियों के साथ खड़े हो रहे हैं, यह देश बर्दाश्त नहीं करेगा. देश कानून से चलेगा, एजेंसियां संज्ञान लेकर कार्रवाई करेंगी.”

WATCH LIVE TV
 

Source link

अपनी राय दें