Lakhimpur Kheri News: लखीमपुर में BJP विधायक और ब्लॉक प्रमुख के बीच हाथापाई, खुलेआम पिस्‍टल फहराया


लखीमपुर खीरी
उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में पंचायत चुनाव में पर्चा वापसी को लेकर जमकर बवाल हुआ। जिले के नकहा ब्लॉक में बीडीसी का पर्चा वापस कराने को लेकर बीजेपी के सदर विधायक योगेश वर्मा और निवर्तमान ब्लॉक प्रमुख पवन गुप्ता के बीच खूब नोकझोक हुई। दोनों ने एक-दूसरे को देख लेने की धमकी दी। इस बीच पवन गुप्ता के समर्थकों ने विधायक को पकड़ने की कोशिश की। इस दौरान ब्लॉक प्रमुख के भाई ने पिस्टल दिखाते हुए चेतावनी दी। इसके बाद ब्लॉक परिसर में भगदड़ मच गई। पूरी घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

जानकारी के मुताबिक, लखीमपुर खीरी जिले के नकहा ब्लॉक में विवाद की सूचना आलाधिकारियों तक पहुंची। इस पर डीएम शैलेंद्र सिंह, एसपी विजय ढुल, एसडीएम सदर डॉ. अरुण कुमार सिंह समेत पुलिस के अधिकारी भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। सूत्रों ने बताया कि दोनों नेताओं के बीच विवाद की मुख्य वजह ब्लॉक प्रमुख की कुर्सी है।

नकहा ब्लॉक के पचपुरवा गांव के वार्ड नंबर 31 से अर्चना वर्मा पत्नी सतीश वर्मा बीडीसी पद की प्रत्याशी हैं। इस वार्ड से अर्चना का समर्थन करते हुए चार प्रत्याशी अपना पर्चा वापस करने जा रहे थे। इसकी सूचना मिलते ही निवर्तमान ब्लॉक प्रमुख पवन गुप्ता पहुंचे और पर्चा वापस कराने का विरोध किया। इसके बाद वहां पर कहासुनी शुरू हो गई।

विधायक और प्रमुख में गाली-गलौज
बताया गया कि ब्लॉक में हंगामे के बीच सदर विधायक योगेश वर्मा मौके पर पहुंचे और विरोध करने पर एतराज जताया। धीरे-धीरे दोनों पक्षों के बीच कहासुनी होने लगी। इसके बाद विधायक और पवन गुप्ता में नोकझोक और जमकर गाली-गलौज हुई। इसके बाद ब्लॉक प्रमुख के भाई ने चेतावनी देते हुए पिस्टल भी लहराया। इसके बाद वहां पर भगदड़ वाली स्थिति पैदा हो गई।

मामले में हो रही कार्रवाई
उधर, लखीमपुर खीरी के जिलाधिकारी शैलेंद्र सिंह ने बताया कि विवाद का मुख्य कारण ब्लॉक प्रमुख पद है। पिस्टल को जमा करा लिया गया है। मामले में कार्रवाई की जा रही है।



Source NBT

अपनी राय दें