संघर्ष विराम के उल्लंघन को लेकर विदेश मंत्रालय ने पाक राजनयिक को तलब किया

संघर्ष विराम के उल्लंघन को लेकर विदेश मंत्रालय ने पाक राजनयिक को तलब किया


डिसक्लेमर:यह आर्टिकल एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड हुआ है। इसे नवभारतटाइम्स.कॉम की टीम ने एडिट नहीं किया है।

| Updated: 14 Nov 2020, 10:53:00 PM

नयी दिल्ली, 14 नवंबर (भाषा) भारत ने दिवाली से एक दिन पहले नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तानी सैनिकों की ओर से संघर्ष विराम का अकारण उल्लंघन किए जाने को लेकर शनिवार को पाकिस्तानी उच्चायोग के एक वरिष्ठ अधिकारी को तलब किया और कड़ा विरोध दर्ज कराया। विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि भारत ने पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा निर्दोष नागरिकों को ‘जानबूझकर निशाना बनाने’ की कड़े शब्दों मे निंदा की और कहा कि पाकिस्तान की ओर से त्यौहारों के समय नियंत्रण रेखा पर गोलाबारी करके शांति भंग किया जाना और हिंसा भड़काना निंदनीय है। उसने कहा, ‘‘पाकिस्तान उच्चायोग

 

नयी दिल्ली, 14 नवंबर (भाषा) भारत ने दिवाली से एक दिन पहले नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तानी सैनिकों की ओर से संघर्ष विराम का अकारण उल्लंघन किए जाने को लेकर शनिवार को पाकिस्तानी उच्चायोग के एक वरिष्ठ अधिकारी को तलब किया और कड़ा विरोध दर्ज कराया। विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि भारत ने पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा निर्दोष नागरिकों को ‘जानबूझकर निशाना बनाने’ की कड़े शब्दों मे निंदा की और कहा कि पाकिस्तान की ओर से त्यौहारों के समय नियंत्रण रेखा पर गोलाबारी करके शांति भंग किया जाना और हिंसा भड़काना निंदनीय है। उसने कहा, ‘‘पाकिस्तान उच्चायोग के ‘चार्ज दी अफेयर्स’ को विदेश मंत्रालय द्वारा तलब किया गया था। उनके समक्ष पाकिस्तान के संघर्ष विराम का अकारण उल्लंघन करने को लेकर कड़ा विरोध दर्ज कराया गया।’’ विदेश मंत्रालय ने यह भी कहा कि भारत ने सीमा पार से आतंकवादियों की घुसपैठ करने में पाकिस्तान का निरंतर सहयोग मिलने को लेकर कभी कड़ा विरोध दर्ज कराया है। पाकिस्तानी सैनिकों ने शुक्रवार को जम्मू कश्मीर में उरी सेक्टर से लेकर गुरेज सेक्टर के बीच कई स्थानों पर नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर संघर्षविराम समझौते का उल्लंघन किया जिसमें पांच सुरक्षाकर्मियों सहित 11 लोगों की मौत हो गयी। भारतीय सैनिकों ने जवाबी कार्रवाई की जिसमें पाकिस्तानी सेना के आठ सैनिक मारे गए और 12 अन्य घायल हो गए। इसके अलावा उसके बुनियादी ढांचे को बड़ा नुकसान पहुंचाया गया है। अधिकारियों और सूत्रों ने यह जानकारी दी। विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान को उस द्विपक्षीय प्रतिबद्धता के बारे में याद दिलाया कि वह अपने नियंत्रण वाले किसी भी भूभाग का इस्तेमाल भारत के खिलाफ आतंकवाद के लिए नहीं करेगा। उधर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दीया जलाकर सैनिकों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त की। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दीपावली के पर्व पर सभी देशवासियों से एक दिया देश के सैनिकों के सम्मान में जलाने का आग्रह किया है। मैंने भी आज दीपोत्सव पर एक दीया भारत के सैनिकों के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए जलाया है।’’

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए NBT फेसबुक पेज लाइक करें

Web Title : foreign ministry summoned pak diplomat for ceasefire violation
Hindi News from Navbharat Times, TIL Network



Source NBT

अपनी राय दें