कोरोना संकट के बीच दिल्ली में होगा दुर्गा पूजा और रामलीला का आयोजन, ऐसी हैं तैयारियां

कोरोना संकट के बीच दिल्ली में होगा दुर्गा पूजा और रामलीला का आयोजन, ऐसी हैं तैयारियां


नई दिल्ली: कोरोना संकट (Coronavirus) के चलते दुर्गा पूजा (Durga Pooja) और रामलीला (Ramleela) आयोजन पर लगाई रोक को वापस लेते हुए सरकार ने इनके आयोजन की अनुमति दे दी है. हालांकि इस दौरान कोरोना नियमों का सख्ती से पालन किया जाएगा. 

लंबे समय तक चली जद्दोजहद के बाद सरकार की तरफ से आखिरी मौके पर मिली अनुमति से रामलीला कमिटी, अलग-अलग किरदार निभा रहे कलाकार, मूर्तिकार और रावण बनाने वालों को काफी नुकसान पहुंचा है. कारीगरों की माने, तो पिछले साल के मुताबिक इस साल काम आधे से भी कम है. जहां एक बार में 20 से 25 मूर्ति बनाने के ऑर्डर मिलते थे वहां इस बाद केवल 6 से 7 छोटी मूर्तियों के ऑर्डर आए हैं. रावण निर्माण का भी इस बार एक ही ऑर्डर मिला है.

आयोजकों को सरकार द्वारा जारी की गई कोरोना गाइडलाइंस को पूरी तरह से फॉलो करना होगा. इसी के चलते सिर्फ 200 लोगों को ही आयोजन में शामिल होने की अनुमति होगी. वहीं आयोजन के दौरान मेले, फूड स्टॉल या प्रदर्शनी इस बार नहीं लगेंगी. इसके आलावा किसी भी इवेंट में लोग खड़े नहीं होंगे. 

ऑनलाइन टेलीकास्ट होगा कल्चरल प्रोग्राम
रामलीला आयोजकों ने बताया कि त्योहार को लेकर उत्साह बनाए रखने के लिए हमारे प्रयास निरंतर जारी हैं. उन्होंने बताया कि कोविड गाइडलाइंस को फॉलो करते हुए कल्चरल प्रोग्राम का आयोजन ऑनलाइन कराया जा रहा है, जहां जजेस पार्टिसिपेंट्स के परफोर्मेस वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए देखते हैं, इस आयोजन के प्रसारण फेसबुक और यूट्यूब लाइव पर भी किया जाता है.

इवेंट से पहले डीएम और डीसीपी से लेनी होगी अनुमति
वहीं इवेंट के आयोजन के लिए इलाके के डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट (DM) और दिल्ली पुलिस डीसीपी से इजाजत लेना जरूरी होगा. जिसके बाद हर इवेंट जैसे रामलीला/पूजा पंडाल के लिए डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट एक नोडल ऑफिसर नियुक्त करेंगे. इलाके के डीसीपी भी एक नोडल ऑफिसर नियुक्त करेंगे. ये दोनों अधिकारी सरकार द्वारा जारी आदेशों का सख्ती से पालन सुनिश्चित कराएंगे.

LIVE TV





Source link

अपनी राय दें